Sarvan Kumar 01/03/2019
14 फरवरी 2019 को पुलवामा (कश्मीर) में हुए आतंकी हमले में 42 CRPF जवानों की शहादत के बाद भारत ने आतंकवाद पर लगाम कसने के लिए एयर स्ट्राइक (सर्जिकल स्ट्राइक-2)किया. इस आतंकवादी हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान स्थित आतंकवादी संगठन जैश ए मोहम्मद ने लिया. पाकिस्तान ऑक्यूपाइड कश्मीर में हुए इस कार्रवाई से पाकिस्तान बौखला गया. उसने भारत से बदला लेने के इरादे से एयर फोर्स से हिंदुस्तान के सैनिक ठिकानों पर हमला करने का कोशिश किया.  भारतीय वायु सेना ने मिग विमान से पाकिस्तान के एडवांस्ड F-16 विमानको गिरा दिया. पाकिस्तान के इस हवाई हमले को हिंदुस्तानी वायु सेना ने असफल कर दिया. लेकिन इस कार्यवाही के दौरान भारतीय वायु सेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान का लड़ाकू विमान क्रैश हो गया. उन्हें पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में गिरफ्तार कर लिया गया. आइए जानते हैं विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान के बारे में पूरी जानकारी

विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान की जीवन परिचय 

विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान कहां के रहने वाले हैं?

वायु सेना के जांबाज ऑफिसर अभिनंदन वर्तमान तमिलनाडु के रहने वाले हैं.

अभिनंदन वर्तमान के माता-पिता का नाम क्या है?
विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान के पिता का नाम एस. वर्तमान और माता का नाम शोभा वर्तमान है.
 
अभिनंदन के परिवार वाले क्या करते हैं?
अभिनंदन के पिता वायु सेना में एयर मार्शल रह चुके हैं. कारगिल की लड़ाई में उन्होंने भाग लिया था. साहस और वीरता के कारण उन्हें भारत सरकार के वीरता मेडल से सम्मानित किया जा चुका है. विंग कमांडर अभिनंदन के दादाजी भी वायु सेना में थे. दूसरे विश्व युद्ध के दौरान वह भारतीय वायुसेना मे शामिल थे.
अभिनंदन की मां शोभा वर्तमान डॉक्टर हैं. अभिनंदन के माता-पिता चेन्नई में रहते हैं
 
पत्नी का क्या नाम है?
विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान की पत्नी का नाम तन्वी मारवाह है. वह भी भारतीय वायु सेना में थीं. तन्वी मारवाह स्क्वाड्रन लीडर के पद से रिटायर हो चुकी हैं.
अभिनंदन वर्तमान का एयर फोर्स करियर
34 वर्षीय अभिनंदन वर्तमान 2004 में पायलट के रूप में भारतीय वायुसेना में शामिल हुए. उनका सर्विस नंबर 27981 है .
 

अभिनंदन वर्तमान कैसे पकड़े गए?

पाकिस्तानी मीडिया के अनुसार, जब अभिनंदन पैराशूट के जरिए धरती पर उतरे , उन्हें यह नहीं पता था कि वह भारत की धरती पर हैं या पाकिस्तान की .
उन्होंने स्थानीय निवासियों से पूछा कि यह स्थान भारत में है या पाकिस्तान में? स्थानीय निवासियों ने उनसे झूठ बोला कि वह भारत में है. तसल्ली होने पर उन्होंने भारत माता की जय का नारा लगाया.  नारा सुनकर वहां एकत्रित भीर आक्रामक हो गई.  यह जानते हुए कि वह दुश्मन के जमीन पर है.  उनके पास कुछ अति महत्वपूर्ण दस्तावेज है.  विंग कमांडर ने भागते हुए उन्हें नष्ट कर दिया . कुछ दस्तावेजों को उन्होंने निगल लिया. भीड़ ने अभिनंदन को पकड़ लिया और उनके साथ मारपीट की गई. लेकिन पाकिस्तानी सेना ने उन्हें भीड़ से बचा लिया और उन्हें अपनी कस्टडी में ले लिया .गिरफ्तार होने के बावजूद भी अभिनंदन विंग कमांडर का हौसला जरा सा भी कम नहीं हुआ. उन्होंने बहादुरी से पाकिस्तान सेना के पूछे गए सवालों का गरिमा पूर्ण ढंग से जवाब दिया.
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की समझदारी, अंतरराष्ट्रीय समुदाय के दवाब और भारत की कूटनीति के कारण पाकिस्तान को 1 मार्च 2019 को विंग कमांडर को भारत को सौंपना पड़ा.

Leave a Reply