Ranjeet Bhartiya 16/02/2019
मां के बिना जिंदगी वीरान होती है, तन्हा सफर में हर राह सुनसान होती है, जिंदगी में मां का होना जरूरी है, मां की दुआ से ही हर मुश्किल आसान होती है. Happy Mothers Day 2022 Jankaritoday.com अब Google News पर। अपनेे जाति के ताजा अपडेट के लिए Subscribe करेेेेेेेेेेेें।
 

Last Updated on 06/09/2020 by Sarvan Kumar

खड़गेश्वरी काली मंदिर अररिया जिले में  स्थित है. इसकी गिनती देश के ऊंचे मंदिरों में किया जाता है.ये जिला भारत के बिहार राज्य में  है. पूर्वोत्तर बिहार में आने वाला यह जिला पूर्णिया प्रमंडल के अंतर्गत आता है. अररिया जिला में कितने अनुमंडल है?  कितनी जनसंख्या है? आइए जानते हैं  अररिया जिला की पूरी जानकारी?

नामकरण और गठन

ब्रिटिश शासन काल के दौरान जिस इलाके में सैन्य अधिकारी (Mr. A.J. Forbes) का बंगला था उसे Residential Area (आवासीय क्षेत्र) कहा जाता था. लोगों ने उस क्षेत्र को संक्षिप्त करके R-Area (आर एरिया) कहना शुरू कर दिया जो कालांतर में अररिया हो गया.

गठनः 1964 में वर्तमान अररिया जिले के भूभाग को भूतपूर्व पूर्णिया जिले का अनुमंडल बनाया गया था. जनवरी 1990 में इसे पूर्णिया जिले से अलग करके स्वतंत्र जिला बनाया गया.

अररिया जिला की भौगोलिक स्थिति

क्षेत्रफल
अररिया जिले का भौगोलिक क्षेत्रफल 2830 वर्ग किलोमीटर है.

बाउंड्री (चौहद्दी)
उत्तर में-नेपाल
दक्षिण में-पूर्णिया जिला
पूर्व में-किशनगंज जिला
पश्चिम में-सुपौल और मधेपुरा जिला

प्रमुख नदियां
कोसी ,सुवाड़ा, काली, परमार और कोली.

अर्थव्यवस्था कृषि और उत्पाद

अररिया जिले की अर्थव्यवस्था मुख्य रूप से कृषि पर निर्भर है.जिले में उगाए जाने वाले प्रमुख फसल हैं -धान, मकई और जूट.

प्रशासनिक सेटअप

प्रमंडल- पूर्णिया
प्रशासनिक सुविधा के लिए अररिया जिले को 2 अनुमंडलों और 9 प्रखंडों में बांटा गया है.

अनुमंडल: अररिया जिले को 2 अनुमंडलों में बांटा गया है;अररिया और फारबिसगंज.

प्रखंड: अररिया जिले को 9 प्रखंडों में बांटा गया है.

अररिया अनुमंडल के अंतर्गत कुल 6 प्रखंड हैं: अररिया, जोकीहाट, कुरसाकांटा, रानीगंज, सिकटी और पलासी.

फारबिसगंज अनुमंडल के अंतर्गत 3 प्रखंड आते हैं: फारबिसगंज, नरपतगंज और भरगामा.

जिला परिषद की संख्या: 1
नगर परिषद की संख्या: 2
नगर पंचायत की संख्या: 1

कुल पंचायतों की संख्या : 218
कुल राजस्व गांवों की संख्या: 751

निर्वाचन क्षेत्र
लोकसभा
अररिया जिले के अंतर्गत एक लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र आता है-अररिया.
विधानसभा
अररिया जिले के अंतर्गत कुल 6 विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र आते हैं: नरपतगंज, रानीगंज, फारबिसगंज, अररिया, जोकीहाट और सिकटी.

अररिया जिला की डेमोग्राफी (जनसांख्यिकी)

अधिकारी की जनगणना 2011 के अनुसार:
कुल जनसंख्या : 28.11 लाख
पुरुष : 14.63 लाख
महिला : 13.48 लाख

जनसंख्या वृद्धि दर दशकीय: 30.25%
जनसंख्या घनत्व (प्रति वर्ग किलोमीटर): 993
बिहार की जनसंख्या में अनुपात: 2.7%
लिंग अनुपात (महिलाएं प्रति 1000 पुरुष): 921

औसत साक्षरता : 53.53%
पुरुष साक्षरता : 62.30%
महिला साक्षरता : 43.93%

शहरी और ग्रामीण जनसंख्या
शहरी जनसंख्या : 6%
ग्रामीण जनसंख्या : 94%

धर्म

अधिकारी की जनगणना 2011 के अनुसार, अररिया एक हिंदू बहुसंख्यक जिला है. जिले में हिंदुओं की जनसंख्या 56.68% है, जबकि मुस्लिमों की आबादी 42.95% है.अन्य धर्मों की बात करें तो जिले में ईसाई 0.15%, सिख 0.0 1%, बौद्ध 0.01% और जैन 0.07% हैं.

अररिया जिले के पर्यटन स्थल

खंडेश्वरी काली मंदिर
मां काली का प्रसिद्ध प्राचीन मंदिर अररिया जिले में स्थित है. इस मंदिर की स्थापना 1884 में की गई थी. इसका नवनिर्माण 1987 में किया गया. इस मंदिर की ऊंचाई 152 फीट है. इसकी उसकी गिनती देश भारत के सबसे ऊंचे मंदिरों में किया जाता है. हजारों की संख्या में दूर-दूर से श्रद्धालु यहां पूजा -अर्चना करने आते हैं .

रानीगंज वृक्ष वाटिका
प्राकृतिक सौंदर्य से भरपूर यह दर्शनीय और मनोरम स्थल अररिया जिला मुख्यालय से 30 किलोमीटर दूरी पर, पश्चिम दिशा में, रानीगंज में स्थित है. 289 एकड़ में फैले इस क्षेत्र को वन क्षेत्र के रूप में विकसित किया गया है.

जैव विविधता उद्यान कुसियारगांव
अररिया जिले के कुसियारगांव में यह बिहार का पहला बायोडायवर्सिटी पार्क है. जिला मुख्यालय से लगभग 10 किलोमीटर की दूरी पर, नेशनल हाईवे 57 के पास स्थित है.

प्रतिकृति स्तूप (Replica Stoop)
यह अररिया जिला मुख्यालय से लगभग 15 किलोमीटर की दूरी पर ,फारबिसगंज की ओर जाने वाली मानिकपुर के पास स्थित है.

शिव मंदिर, ठाकुरबाड़ी
अररिया के प्राचीन ठाकुरबाड़ी में शहर के मध्य में भगवान शिव का यह मंदिर स्थित है.

सुल्तान फोखर
हिंदू और मुस्लिम समुदायों के लिए फारबिसगंज में सुल्तान फोखर एक महत्वपूर्ण स्थल है.

बाबा सुंदरनाथ शिव धाम
भगवान शिव का यह प्रसिद्ध मंदिर कुरसाकांटा प्रखंड के सुंदरी में स्थित है. शिवरात्रि और सावन के महीने में यहां पर श्रद्धालुओं की भारी भीड़ इकट्ठा होती है.

जामा मस्जिद
अररिया स्थित यह मस्जिद आसपास के क्षेत्रों के मुस्लिमों का सबसे महत्वपूर्ण धार्मिक स्थल है.

क्यूबा मस्जिद
शहर का यह प्रसिद्ध मस्जिद नवरत्न चौक के पास स्थित है.

अररिया कैसे पहुंचे?

हवाई मार्ग
अररिया का कोई अपना हवाई अड्डा नहीं है. निकटतम हवाई अड्डा ,बागडोगरा हवाई अड्डा (IXB) अररिया से 111 किलोमीटर दूरी पर, पश्चिम बंगाल में स्थित है.दूसरा नजदीकी हवाई अड्डा, पटना एयरपोर्ट (PAT), अररिया से 235 किलोमीटर दूरी पर, पटना में स्थित है.

रेल मार्ग
अररिया रेल मार्ग से देश के विभिन्न जगहों से जुड़ा हुआ है. यहां बड़ी लाइन की सुविधा मौजूद है.
नजदीकी रेलवे स्टेशन: अररिया कोर्ट (ARQ) और अररिया (RS).

सड़क मार्ग
अररिया नेशनल हाईवे 57 से जुड़ा है. अररिया बस अड्डे से बिहार राज्य के विभिन्न जिलों और प्रमुख प्रखंडों के लिए नियमित बस सुविधा उपलब्ध है.
प्रमुख बस स्टेशन: अररिया जीरो माइल, अररिया कोर्ट
आप यहां अपने निजी वाहन कार या बाइक से भी आ सकते हैं.

Advertisement
Disclaimer: Is content में दी गई जानकारी Internet sources, Digital News papers, Books और विभिन्न धर्म ग्रंथो के आधार पर ली गई है. Content  को अपने बुद्धी विवेक से समझे। jankaritoday.com, content में लिखी सत्यता को प्रमाणित नही करता। अगर आपको कोई आपत्ति है तो हमें लिखें , ताकि हम सुधार कर सके। हमारा Mail ID है jankaritoday@gmail.com. अगर आपको हमारा कंटेंट पसंद आता है तो कमेंट करें, लाइक करें और शेयर करें। धन्यवाद

Leave a Reply