Pinki Bharti 15/03/2020

तेजी से फैल रहा कोरोना वायरस पूरे विश्व के लिए एक गंभीर समस्या बन चुका है. इस जानलेवा वायरस ने अब तक 155 देशों को अपनी गिरफ्त में ले लिया है. अब कोरोना वायरस भारत में भी पैर पसारने लगा है. अभी तक देश में 107 कोरोना के पॉजिटिव मामले सामने आ चुके हैं. कोरोना के कारण अब तक भारत में 3 लोगों ने अपनी जान गवा दीं हैं, जिसके कारण लोग कोरोना वायरस संक्रमण को गंभीरता से लेने के लिए मजबूर हो गए हैं.

कोरोना वायरस से बचने के लिए जारी किए गए गाइडलाइंस में सबसे महत्वपूर्ण है सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क का प्रयोग और स्वच्छता. विशेषज्ञों का कहना है कि हमें अनावश्यक किसी चीज को नहीं छूना चाहिए. ऐसा इसीलिए की वस्तुओं के सतह पर यह जानलेवा वायरस हो सकता है जिसे छूने से वायरस हमारे शरीर में प्रवेश कर सकता है.

जागरूकता बढ़ने के कारण लोग अब अनावश्यक किसी चीज को छूने से कतराने लगे हैं. लेकिन फिर भी एक ऐसा चीज है जिसके प्रति लोग अभी भी लापरवाह हैं.वह चीज है आपका स्मार्टफोन, जिसे आप सोते-जागते हर समय अपने साथ रखते हैं.

अक्सर देखा गया है कि हम अपने घरवालों या दोस्तों का फोन लेकर यूज करने लगते हैं. वर्तमान परिस्थितियों में ऐसा करना भी घातक सिद्ध हो सकता है. स्मार्टफोन को साफ़ रखना इस वक्त बहुत जरूरी है. जरा ठीक से याद करके देखिए आपने अंतिम बार अपना फोन कब साफ किया था? हमें से कई लोग ऐसे होंगे जिन्होंने फोन खरीदने के बाद शायद उसे कभी साफ नहीं किया होगा. कुछ ऐसे होंगे जो महीने में एक बार या सप्ताह में एक बार अपने फोन को साफ करते होंगे.

कई अध्ययनों से पता चला है कि आपका स्मार्टफोन टॉयलेट सीट से 10 गुना से भी ज्यादा गंदा हो सकता है. आपका गंदा है स्मार्टफोन बैक्टीरिया और वायरस को पनपने के लिए एक उपयुक्त वातावरण दे सकता है, जिसके कारण आप कई गंभीर बीमारियों के शिकार भी हो सकते हैं.

इसीलिए कोरोना के मौजूदा हालात में यह जरूरी हो जाता है कि आप अपने मोबाइल फोन या दूसरे उपकरणों को साफ रखें. ज्यादातर लोग यह समझते हैं कि स्मार्टफोन या लैपटॉप को एक बार वाइप कर देने से वह साफ हो जाता है. लेकिन यह तरीका कोरोना जैसे संक्रमण से लड़ने के लिए प्रभावशाली नहीं है. यहां एक बात ध्यान देने योग्य है कि आप केवल अपने स्मार्टफोन को ही नहीं बल्कि उसके कवर को भी अच्छे से साफ रखें. स्मार्टफोन को इस्तेमाल करने के बाद यहां-वहां ना नहीं रखने के बजाय किसी स्वच्छ स्थान पर रखें. कई सर्वे से पता चला है कि भारी संख्या में लोग स्मार्टफोन को लेकर के बाथरूम तक जाते हैं. वर्तमान परिस्थिति में ऐसा नहीं करने में ही आपकी भलाई है.

मोबाइल फोन स्वच्छ रखने का सही तरीका

Isopropyl alcohol का प्रयोग

दो तिहाई डिस्टिल्ड वाटर में एक तिहाई आइसोप्रोपिल अल्कोहल मिला लें. इस सलूशन को माइक्रोफाइबर क्लॉथ पर स्प्रे करके अपने स्मार्टफोन और लैपटॉप को साफ करें. आप अगर और सुरक्षा चाहते हैं तो ऐसे सलूशन का प्रयोग करें जिसमें 70% तक आइसोप्रोपिल अल्कोहल रहे. इस सलूशन से स्मार्टफोन साफ करते समय डिस्पोजेबल ग्लव्स जरूर पहने. स्मार्टफोन साफ करने के बाद अपने हाथों को साबुन और पानी से अच्छे से धोना ना भूलें.

UV लाइट सैनिटाइजर

अगर आप किसी तरल पदार्थ का उपयोग नहीं करना चाहते तो UV लाइट सैनिटाइजर का प्रयोग करके अपने स्मार्टफोन को साफ कर सकते हैं.

Leave a Reply