Sarvan Kumar 26/02/2018

 

श्रीदेवी की अचानक मौत हो गयी. फिल्मो में हंसती-खिलखिलाती बॉलीवुड की मशहूर एक्ट्रेस श्रीदेवी की मौत कार्डिऐक अरेस्ट (हृदय गति अचानक रुक जाने) से हुयी थी.

श्रीदेवी की मौत की वजह

लेकिन शाम तक नई खबर आयी कि श्रीदेवी की मौत कार्डिएक अरेस्ट से नहीं बल्कि किसी और वजह से हुई है. श्रीदेवी के देवर संजय कपूर ने बयान दिया था कि उन्हें दिल की कोई बीमारी नहीं थी. यह बात सामने आयी कि श्रीदेवी ने कई कॉस्मेटिक सर्जरी कराई थीं. वह ऐसी 29 सर्जरी करा चुकी थीं. इनमें से एक सर्जरी में गड़बड़ी हो गई थी और वह कई दवाइयां खा रही थीं. साउथ कैलिफॉर्निया के उनके डॉक्टर ने उन्हें कई डायट पिल्स लेने की सलाह दी थी और वह उनका सेवन कर रही थीं.

श्रीदेवी कई ऐंटी एजिंग दवाइयां ले रही थीं. इनसे खून गाढ़ा होने की शिकायत होती है. सूत्रों के अनुसार श्रीदेवी की मौत की वजह यह भी हो सकती है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, श्रीदेवी की मौत के पीछे ड्रग बड़ी वजह मानी जा रही है. कई वेबसाइट और पोर्टल के मुताबिक श्रीदेवी जवान दिखने और भूख मिटाने कि लिए ऐसी दवाओं को सेवन करती थीं, जिनसे उनके हार्ट को नुकसान हुआ.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कुछ लोग श्रीदेवी की लिप सर्जरी को उनकी मौत की वजह मान रहे हैं. रिपोर्ट्स के मुताबिक, श्रीदेवी ने लिप सर्जरी समेत कई कॉस्मेटिक सर्जरी कराई थीं. वह ऐसी 29 सर्जरी करा चुकी थीं. इनमें से एक सर्जरी में गड़बड़ी हो गई थी और वह कई दवाइयां खा रही थीं. साउथ कैलिफॉर्निया के उनके डॉक्टर ने उन्हें डाइट पिल्स लेने की सलाह दी थी. माना जा रहा है कि इससे उनके उनके हार्ट को नुकसान पहुंचा होगा. संभवत: इसी वजह से उन्हें दिल का दौरा पड़ा और उनकी मौत हो गयी.

बहरहाल श्रीदेवी की मौत का कारण जो भी हो एक बात जो सामने आ रही वो है सुन्दर और SLIM दिखने के चक्कर में लोग ना सिर्फ अपने स्वास्थ के साथ खिलवाड़ कर रहे बल्कि प्रकृति के नियम को भी ताक पे रख रहे.

डाइट पिल्स क्या है? इसके साइड इफेक्ट्स क्या है?

डाइट पिल्स एक दवा है जिसका उपयोग वजन घटाने के लिए किया जाता है. आप कह सकते हैं की यह खुद को स्लिम रखने का एक शॉर्टकट रास्ता है. यह भूख को दबा देता है और आतों से फैट के अवशोषण को २५% तक रोक देता है.
इसके साइड इफेक्ट्स हैं – उच्च रक्तचाप, स्ट्रोक, हृदय रोग और टाइप 2 मधुमेह!

जीवन को सहज जीना चाहिए क्यूंकि जीवन असहज होते ही मृत्यु बन जाता है.

पत्रकार अनुराग मुस्कान ने ट्वीट किया-
मृत्यु की वजह हृदय गति रुकना. लेकिन हृदय गति रुकने की वजह…?
१- 29 एंटी एजिंग सर्जरी?
२- वजन कम करने के लिए तमाम दवाएं?
३- मानसिक तनाव?

जीवन का हर पड़ाव की अपनी खूबसूरती है. जीवन चक्र – “बचपन, जवानी, बुढ़ापा और मौत”- एक अटल सत्य है. खुद को प्रकृति के हिसाब से ढाल कर , जीवन के हर क्षण का आनंद लेनी की कोशिस करनी चाहिए.
जीवन को सहज जीना चाहिए क्यूंकि जीवन असहज होते ही मृत्यु बन जाता है.
सबक- जीवन को सहज जीना चाहिए क्यूंकि जीवन असहज होते ही मृत्यु बन जाता है.

 

 

 

 

 

 

Leave a Reply