Ranjeet Bhartiya 13/01/2022

Jankaritoday.com अब Google News पर। अपनेे जाति के ताजा अपडेट के लिए Subscribe करेेेेेेेेेेेें।
  Happy Makar Sankranti 🌝☀️

Last Updated on 14/01/2022 by Sarvan Kumar

चिक (Chik) भारत में पाया जाने वाला एक मुस्लिम जाति समुदाय है. इन्हें विभिन्न नामों से जाना जाता है, जैसे-बकर कसाब (Bakar Qassab), बुज़ कसाब  (Buz Qassab) और चिकवा (Chikwa). उत्तर प्रदेश में अक्सर इन्हें बकर कसाब या बुज़ कसाब के रूप में जाना जाता है.पारंपरिक रूप से यह बकरी का वध करने और मांस बेचने के व्यवसाय में शामिल रहे हैं. इसी से इनका जीवन यापन होता है. इस समुदाय के लोग आज भी जीवन यापन के लिए मांस बेचने के अपने पुश्तैनी व्यवसाय पर निर्भर हैं. हालांकि, इनमें से कई अब छोटे-मोटे व्यापार और दूसरे व्यवसाय भी करने लगे हैं. उत्तर प्रदेश के चिक मांस और खाल के व्यापार में शामिल हैं. इनमें से कई अब टेनरियों (Tanneries) के मालिक हैं. इनमें से कुछ अब परिवहन व्यवसाय (Transportation Business) भी करने लगे हैं. आइए जानते हैं चिक समाज का इतिहास, चिक की उत्पति कैसे हुई?

चिक समाज एक परिचय

भारत सरकार के सकारात्मक भेदभाव की व्यवस्था आरक्षण (Reservation) के अंतर्गत इन्हें बिहार और उत्तर प्रदेश में अन्य पिछड़ा वर्ग (Other Backward Class, OBC) का दर्जा दिया गया है. भारत के अलावा, पाकिस्तान में भी इनकी आबादी है. भारत में यह मुख्य रूप से बिहार और उत्तर प्रदेश राज्यों में पाए जाते हैं. उत्तर प्रदेश में यह मुख्य रूप से रोहिलखंड (Rohilkhand) और अवध (Awadh) क्षेत्र में निवास करते हैं. रोहिलखंड के बरेली, बिजनौर, बदायूं और शाहजहांपुर जिलों में इनकी अच्छी खासी आबादी है. अवध क्षेत्र की बात करें तो यह मुख्य रूप से लखनऊ, खीरी, उन्नाव और हरदोई जिलों में पाए जाते हैं. बिहार में यह पूरे राज्य में पाए जाते हैं, और यहां यह सबसे व्यापक मुस्लिम समूहों में से एक हैं. धार्मिक रूप से चिक एक सुन्नी मुसलमान समुदाय है. उत्तर प्रदेश के चिक सख्ती से अंतर्विवाही (endogamous) हैं और करीबी रिश्तेदारों से शादी करने की एक उल्लेखनीय प्राथमिकता है. जबकि बिहार में निवास करने वाले चिक और कसाब समुदाय के बीच विवाह संबंध है. हिंदी, उर्दू, अवधी और खड़ी बोली बोलते हैं.

चिक  समाज की उत्पत्ति कैसे हुई?

बकर शब्द की उत्पत्ति उर्दू  बकरा से हुई है. इस तरह से बकर कसाब का शाब्दिक अर्थ होता है- “मटन कसाई (mutton butcher)”.इनकी उत्पत्ति के बारे में अनेक मान्यताएं हैं, इसके बारे में विस्तार से नीचे बताया जा रहा है.

1. इस समुदाय के लोग कुरैशी अरबों (Qureshi Arabs) के वंशज होने का दावा करते हैं. कुरैशी अरबों के बारे में कहा जाता है कि वह प्रारंभिक मध्य युग में भारत आए थे.

2. दूसरी मान्यता के अनुसार, इस समुदाय के अधिकांश सदस्यों का संबंध मूल रूप से हिंदू चिकवा जनजाति (Hindu Chikwa Tribe) से है, जो धर्म परिवर्तित मुसलमान बन गए. कालांतर में उन्हें मुस्लिम चिक या चिकवा जाति के रूप में जाना जाने लगा.

3.एक अन्य मान्यता के अनुसार, यह दक्षिण एशिया में पाए जाने वाले के बृहद कसाब समुदाय (Qassab community) का हिस्सा हैं. कसाब समुदाय अनेक उप जातियों में विभाजित है. चिक कसाब समुदाय के भीतर एक उप-समूह हैं. बता दें कि चिक बकरियों का वध मे करने में माहिर होते हैं, जबकि कसाब बड़े जानवरों जैसे भैंस आदि का वध करने में विशेषज्ञ हैं.

Shop At Amazon and get heavy Discount Disclaimer: Is content में दी गई जानकारी Internet sources, Digital News papers, Books और विभिन्न धर्म ग्रंथो के आधार पर ली गई है. Content  को अपने बुद्धी विवेक से समझे। jankaritoday.com, content में लिखी सत्यता को प्रमाणित नही करता। अगर आपको कोई आपत्ति है तो हमें लिखें , ताकि हम सुधार कर सके। हमारा Mail ID है jankaritoday@gmail.com. अगर आपको हमारा कंटेंट पसंद आता है तो कमेंट करें, लाइक करें और शेयर करें। धन्यवाद

2 thoughts on “चिक समाज का इतिहास, चिक की उत्पति कैसे हुई?

  1. वे कौन से धर्म ग्रन्थ हैं जिनके आधार पर यह लेख प्रकाशित किया गया है ? उन सभी धर्म ग्रन्थों के नाम, पृष्ठ संख्या, पृष्ठों की कॉपी क्या आपके पास उपलब्ध है ? यदि हाँ तो कृपया नीचे दी गए मेल एड्रेस पर उन्हें प्रेषित करने का कष्ट करें. आपत्ति यह है कि खटिक और चिक दोनों के बारे में किसी भी धर्म ग्रन्थ में कोई उल्लेख नहीं है. यदि है तो कृपया उनकी कॉपी सहित प्रमाण प्रस्तुत करने का कष्ट करें. आभारी रहूँगा …. धन्यवाद …. शुभकामनाएं …… !

    1. References of Chik and khatik  castes :
      Link :
      https://jankaritoday.com/chik-caste-history/

      References:
      1. Risley :The Tribes and castes of Bengal  volume 1
      Page 205

      Amazon link:
      https://www.amazon.in/dp/8121226805/ref=cm_sw_r_apan_glt_i_7PG716JABW30G2TR89NF

      2. Book : Brief View of the Caste System of the North western Provinces and oudh 1882
      Written by
      John C. NESFIELD
      Page 127
      Link :  Amazon
      https://www.amazon.in/dp/1297841727/ref=cm_sw_r_apan_glt_i_Y0PC5XW358D34HCE53XW

Leave a Reply