Sarvan Kumar 19/06/2020

नई दिल्ली: विश्व में भारत का दबदबा बढ़ गया है. बुधवार को आठवीं बार भारत को निर्विरोध संयुक्त राष्ट्र के सुरक्षा परिषद (UNSC) के अस्थाई सदस्य के रूप में चुन लिया गया है. अब भारत वर्ष 2021- 2022 के लिए संयुक्त राज्य की सर्वोच्च संस्था का अस्थाई सदस्य बना रहेगा. भारत एशिया-पेसिफिक श्रेणी से सिक्योरिटी काउंसिल के अस्थाई सदस्य के सीट के लिए इकलौता उम्मीदवार था. इस बार भारत के अलावे नॉर्वे, मैक्सिको और आयरलैंड को सुरक्षा परिषद में जगह मिली है. वहीं, कनाडा को सुरक्षा परिषद से बाहर जाना पड़ेगा.

भारत को 192 में से मिले 184 वोट

बता दें कि इससे पहले भारत को 1950-51, 1967-68, 1972-73, 1977-78, 1984-85, 1991-92 तथा 2011-12 में सिक्योरिटी काउंसिल का अस्थाई सदस्य चुना गया था. इस बार अस्थाई सदस्य के लिए हुए चुनाव में भारत को 192 बैलट वोट में से 184 वोट मिले. इस ऐतिहासिक जीत पर खुशी जाहिर करते हुए संयुक्त राष्ट्र में भारत के प्रतिनिधि पीएस तिरुमूर्ति ने कहा कि मैं बहुत प्रसन्न हूं कि भारत को साल 2021-22 के लिए संयुक्त राष्ट्र के सिक्योरिटी काउंसिल के अस्थाई सदस्य के रूप में चुना गया है. हमें इस बार भारी समर्थन प्राप्त हुआ है. भारत विश्व को नेतृत्व देना जारी रखेगा तथा एक बेहतर बहुपक्षीय व्यवस्था को नई दिशा देगा. संयुक्त राष्ट्र के सदस्यों ने भारत पर जो विश्वास दिखाया है इसके लिए विनम्र महसूस कर रहा हूं. संयुक्त राष्ट्र के सिक्योरिटी काउंसिल में भारत का चुना जाना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दूरदर्शिता और वैश्विक नेतृत्व को दर्शाता है, विशेष रूप से उस समय में जब पूरा विश्व कोरोनावायरस से जूझ रहा है. सुरक्षा परिषद में भारत की उपस्थिति से विश्व में वासुदेव कुटुंबकम के लोकाचार को लाने में मदद मिलेगी.

अमेरिका ने किया स्वागत

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में चुने जाने पर अमेरिका ने भारत को बधाई दिया है. अमेरिका ने आधिकारिक बयान जारी करते हुए कहा है कि हम मिलकर वैश्विक शांति और सुरक्षा के मुद्दों पर साथ कार्य करने के लिए उत्साहित हैं. यही भारत और अमेरिका के बीच सहभागिता की वैश्विक रणनीति भी है.

पाकिस्तान को लगी मिर्ची

भारत के संयुक्त राष्ट्र के सिक्योरिटी काउंसिल में चुने जाने पर पाकिस्तान को मिर्ची लग गई है. पाकिस्तान ने अस्थाई सदस्य के रूप में भारत के चुनाव पर चिंता जाहिर करते हुए कहा है कि यह कोई बड़ी बात नहीं है इससे कोई फर्क नहीं पड़ता, लेकिन पाकिस्तान के लिए निश्चित रूप से एक चिंता का विषय है.

क्या है सिक्योरिटी काउंसिल?

सिक्योरिटी काउंसिल संयुक्त राष्ट्र परिषद का सबसे महत्वपूर्ण अंग है. इसके जरिए वैश्विक शक्तियों में संतुलन बनाकर रखा जाता है. वर्तमान में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में कुल 15 देश शामिल हैं. इसमें से पांच देश अमेरिका, रूस, फ्रांस, ब्रिटेन और चीन स्थाई सदस्य हैं. जबकि अन्य 10 देशों को सुरक्षा परिषद में अस्थाई रूप से सदस्यता दी जाती है. इस बार इन्हीं देशों के साथ भारत भी संयुक्त राष्ट्र परिषद का सुरक्षा परिषद का हिस्सा बन गया है.

Daily Recommended Product: ( Today) Mi Power Bank 3i 10000mAh (Metallic Blue) Dual Output and Input Port | 18W Fast Charging

Leave a Reply