Ranjeet Bhartiya 11/08/2019

अंबेडकर नगर, भारत के उत्तर प्रदेश राज्य में स्थित एक जिला है. उत्तर प्रदेश के पूर्वी भाग में आने वाला यह जिला अयोध्या (फैजाबाद) प्रमंडल के अंतर्गत आता है.अकबरपुर, अंबेडकर नगर जिले का प्रशासनिक मुख्यालय है. अंबेडकर नगर (अकबरपुर) को बीसवीं शताब्दी के महान संत बाबा नीम करौली तथा प्रसिद्ध समाजवादी नेता और स्वतंत्रता सेनानी डॉ राम मनोहर लोहिया के जन्म स्थल होने का गौरव प्राप्त है. जिले के टांडा तहसील के सदरपुर में स्थित महामाया मेडिकल कॉलेज की गिनती राज्य के प्रीमियर मेडिकल कॉलेज और मल्टी स्पेशलिटी हॉस्पिटल में किया जाता है. जिले में कितने तहसील है? कितनी जनसंख्या है? आईये जानते हैं अंबेडकर नगर जिले की पूरी जानकारी

नामकरण

जिले का नाम महिलाओं, दलितों, पिछड़ों, वंचितों और समाज के कमजोर वर्गों के उत्थान के लिए संघर्ष करने वाले संविधान निर्माता डॉ बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर के स्मृति में रखा गया है.

अंबेडकर नगर जिला कब बना

एक जिले के रूप में अस्तित्व में आने से पहले ये जिला अयोध्या जिले (फैजाबाद) का हिस्सा हुआ करता था. 29 सितंबर 1995 को इसे अयोध्या जिले से अलग करके स्वतंत्र जिला बनाया गया.

अंबेडकर नगर जिले की भौगोलिक स्थिति

बाउंड्री (चौहद्दी)
ये जिला कुल 6 जिलों से घिरा हुआ है.
उत्तर में-  संतकबीर नगर जिला, बस्ती जिला और अयोध्या (फैजाबाद) जिला
दक्षिण में-सुल्तानपुर जिला और आजमगढ़ जिला
पूरब में-गोरखपुर जिला और आजमगढ़ जिला
पश्चिम में-अयोध्या जिला और सुल्तानपुर जिला

समुद्र तल से ऊंचाई
ये जिला समुद्र तल से लगभग 92-98 मीटर की औसत ऊंचाई पर स्थित है. जिला मुख्यालय अकबरपुर समुद्र तल से लगभग 133 मीटर की औसत ऊंचाई पर स्थित है.

क्षेत्रफल
इस जिले  का भौगोलिक क्षेत्रफल 2350 वर्ग किलोमीटर है.

प्रमुख नदियां:
जिला मुख्यालय अकबरपुर, तमसा नदी के तट पर स्थित है.
जिले की प्रमुख नदियां हैं: सरयू, घाघरा, तमसा, बिसुही और मझुई.

अर्थव्यवस्था-कृषि, उद्योग और उत्पाद

इस जिले ले की अर्थव्यवस्था कृषि, पशुपालन, मछली पालन, वन, खनिज, उद्योग और व्यवसाय पर आधारित है.

कृषि

इस जिले की अर्थव्यवस्था मुख्य रूप से कृषि पर आधारित है. जिले में उगाए जाने वाले प्रमुख फसल हैं: गेहूं, धान, मक्का, बाजरा, गन्ना दलहन (अरहर, उड़द, मसूर, मूंग, चना और मटर), तिलहन (तिल और सरसों) आलू और सब्जियां. जिले में उगाए जाने वाले प्रमुख फल हैं: आम, अमरूद आंवला, पपीता और केला.

पशुपालन

पशुपालन ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले लोगों के लिए आय का एक महत्वपूर्ण जरिया है. जिले के प्रमुख पशुधन हैं: गाय, बैल, भैंस, सूअर, भेड़, बकरी और पोल्ट्री.

मछली पालन

जिले के नदियों, नहरों, तालाबों, टैंको और जलाशयों से प्रचुर मात्रा में विभिन्न प्रकार के मछलियों का उत्पादन किया जाता है. जिले में पाए जाने वाले प्रमुख मछलियां हैं: रोहू, नैन, भाकुर, महासुर, चिलवा, मोला और अनवरी.

वन

जिले का अधिकांश वन क्षेत्र कटेहरी विकासखंड में स्थित हैं.  जिले में पाए जाने वाले प्रमुख वन उत्पाद हैं: यूकेलिप्टस, बबूल, जामुन, आम, बांस, शीशम और महुआ.

खनिज

ये जिला  जिला खनिज से समृद्ध नहीं है. जिले में पाए जाने वाले प्रमुख खनिज हैं: बालू, कंकर और रेह.

उद्योग

अंबेडकर नगर जिला कपड़ा उद्योग, पावर प्लांट, चीनी मिल और सीमेंट प्लांट के लिए जाना जाता है. अंबेडकर नगर जिले में स्थित प्रमुख बड़े उद्योग हैं: थर्मल पावर स्टेशन, सीमेंट उद्योग, चीनी मिल, हैंडलूम और पावर लूम इकाइयां, फर्नीचर उद्योग, पेपर उद्योग, चमड़ा उद्योग और केमिकल उद्योग. जिले के टांडा, जलालपुर और भूलेपुर में हैंडलूम और पावर लूम की कई इकाइयां कार्यरत हैं. टांडा को “टांडा टेरीकॉट” के नाम से जाना जाता है. इन इकाइयों में निर्मित कपड़ों का बाहर निर्यात किया जाता है..

व्यवसाय

जिले में निर्मित कपड़ों और कृषि उत्पादों का दूसरे जिलों में निर्यात किया जाता है.

प्रशासनिक सेटअप

प्रमंडल: अयोध्या (फैजाबाद)
प्रशासनिक सहूलियत के लिए इस जिले को 5 तहसीलों (अनुमंडल) और 9 विकासखंडो (प्रखंड/ ब्लॉक) में बांटा गया है.

तहसील (अनुमंडल):
 जिले को कुल 5 तहसीलों में बांटा गया है: भीटी, अकबरपुर, जलालपुर, टांडा और आलापुर.

विकासखंड (प्रखंड):
भीटी, कटेहरी, टांडा, अकबरपुर, जलालपुर, भियांव,
बसखारी, रामनगर और जहांगीरगंज.

पुलिस थानों की संख्या: 18
कुल नगर निगमों की संख्या: 5
नगर पालिकाओं की संख्या: 3
नगर पंचायतों की संख्या: 2
न्याय पंचायतों की संख्या: 111
ग्राम पंचायतों की संख्या: 930
गांवों की संख्या: 1757

निर्वाचन क्षेत्र
लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र: 2, अंबेडकर नगर और संत कबीर नगर (पार्ट)

विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र: 5
इस जिले के अंतर्गत कुल 5 विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र आते हैं: कटेहरी, टांडा, जलालपुर, अकबरपुर और आलापुर.

इनमें से कटेहरी, टांडा, जलालपुर और अकबरपुर अंबेडकर नगर लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र के अंतर्गत आते हैं, जबकि आलापुर संत कबीर नगर लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र का हिस्सा है.

अंबेडकर नगर जिले की डेमोग्राफीक्स (जनसांख्यिकी)

2011 के आधिकारिक जनगणना के अनुसार अंबेडकर नगर जिले की जनसांख्यिकी इस प्रकार है-
कुल जनसंख्या: 23.98 लाख
पुरुष: 12.12 लाख
महिला: 11.85 लाख

जनसंख्या वृद्धि (दशकीय): 18.30%
जनसंख्या घनत्व (प्रति वर्ग किलोमीटर): 1020
उत्तर प्रदेश की जनसंख्या में अनुपात: 1.20%
लिंगानुपात (महिलाएं प्रति 1000 पुरुष): 978

औसत साक्षरता: 72.23%
पुरुष साक्षरता: 81.66%
महिला साक्षरता: 62.66%

शहरी और ग्रामीण जनसंख्या
शहरी जनसंख्या: 11.71%
ग्रामीण जनसंख्या: 88.29%

धार्मिक जनसंख्या

2011 के आधिकारिक जनगणना के अनुसार, अंबेडकर नगर एक हिंदू बहुसंख्यक जिला है. जिले में हिंदुओं की जनसंख्या 82.81% है, जबकि मुस्लिमों की आबादी 16.75% है. अन्य धर्मों की बात करें तो जिले में ईसाई 0.11%, सिख 0.04%, बौद्ध 0.08% और जैन 0.01% हैं.

भाषाएं
इस जिले में बोली जाने वाली प्रमुख भाषाएं हैं: हिंदी, अवधी और उर्दू.

अंबेडकर नगर जिले में पर्यटन स्थल

जिले में पौराणिक धार्मिक पुरातात्विक और ऐतिहासिक दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण कई दर्शनीय स्थल हैं. जिले में स्थित प्रमुख दर्शनीय स्थलों के बारे में संक्षिप्त विवरण:

टांडा थर्मल पावर प्लांट (एनटीपीसी टांडा)

कोयला आधारित यह बिजली संयंत्र अंबेडकर नगर जिले में स्थित है. इस पावर प्लांट के लिए कोयले का स्रोत कर्णपुरा कोल फील्ड है. प्लांट के लिए पानी सरयुग नदी के टांडा पंप कैनाल से लिया जाता है.

गोविंद साहब धाम

सिद्ध संत गोविंद साहब का यह समाधि स्थल अंबेडकर नगर-आजमगढ़ जिले की सीमा पर स्थित है. यह ऐतिहासिक स्थल पूर्वांचल के लोगों के लिए आस्था का केंद्र है. यहां प्रति साल एक महीने तक चलने वाला मेला लगता है जिसमें भारी संख्या में श्रद्धालु हिस्सा लेते हैं. ऐसी मान्यता है कि यहां गोविंद बाबा को दशमी के दिन खिचड़ी चढ़ाने से हर मनोकामना पूरी होती है.

किछौछा शरीफ

सूफी संत हजरत मखदूम अशरफ जहांगीर अशरफी का यह मशहूर दरगाह अकबरपुर जंक्शन रेलवे स्टेशन से लगभग 25 किलोमीटर की दूरी पर किछौछा में स्थित है. सांप्रदायिक सौहार्द के प्रतीक इस दरगाह के बारे में मान्यता है कि यहां पर मन्नत मांगने से हर मुराद पूरी होती है.

शिव बाबा मंदिर

भगवान शिव को समर्पित यह मंदिर अकबरपुर जिला मुख्यालय से लगभग 5 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है.

अंबेडकर नगर कैसे पहुंचे?

हवाई मार्ग
अंबेडकर नगर जिले का अपना हवाई अड्डा नहीं है. यहां के लिए डायरेक्ट हवाई सेवा उपलब्ध नहीं है.

निकटतम हवाई अड्डा: लाल बहादुर शास्त्री अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट, वाराणसी (Code: VNS).  यह हवाई अड्डा अंबेडकर नगर जिला मुख्यालय अकबरपुर से लगभग 121 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है.

दूसरा नज़दीकी हवाई अड्डा: महायोगी गोरखनाथ एयरपोर्ट, गोरखपुर. यह हवाई अड्डा अकबरपुर से लगभग 130 किलोमीटर की दूरी पर गोरखपुर में स्थित है.

रेल मार्ग

अंबेडकर नगर, रेल मार्ग से उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ तथा देश के विभिन्न भागों से अच्छे से जुड़ा हुआ है.
निकटतम रेलवे स्टेशन: अकबरपुर जंक्शन रेलवे स्टेशन (Code: ABP).

सड़क मार्ग
अंबेडकर नगर, सड़क मार्ग से उत्तर प्रदेश और देश के प्रमुख शहरों से अच्छे से जुड़ा हुआ है. यहां के लिए नियमित सरकारी और प्राइवेट बस सेवाएं उपलब्ध है. आप यहां अपने निजी वाहन कार या बाइक से भी आ सकते हैं.

अंबेडकर नगर जिले की कुछ रोचक बातें:

2011 के जनगणना के अनुसार,
1. जनसंख्या की दृष्टि से उत्तर प्रदेश में 42वां स्थान है.
2. लिंगानुपात के मामले में  उत्तर प्रदेश में 7वां स्थान है.
3. साक्षरता के मामले में उत्तर प्रदेश में 16वां स्थान है.
4. सबसे ज्यादा बसे गांव वाला तहसील: आलापुर (423).
5. सबसे कम बसे गांव वाला तहसील: भीटी (251)
6. जिले में कुल निर्जन गांवों की संख्या: 101.

Leave a Reply