Pinki Bharti 15/07/2019

आजकल सोशल मीडिया पर बरेली की लव स्टोरी काफी ट्रेंड पर है।साक्षी मिश्रा, अजितेश सिंह, और राजेश मिश्रा उर्फ पप्पू भरतौल ये तीन किरदारों में घूम रही है यह लव स्टोरी। कहते हैं प्यार अंधा होता है, यह लव स्टोरी कहीं इसी कहावत को चरितार्थ करता है।इस कहानी के पहले किरदार है साक्षी मिश्रा, दूसरे अजितेश सिंह और तीसरे किरदार का नाम है राजेश मिश्रा उर्फ पप्पू भरतौल। पप्पू भरतौल बरेली के बिथरी चैनपुर से विधायक हैं। मामला हाई प्रोफाइल होने के कारण यह लव स्टोरी सुर्खियों में आई है। हर कोई इस लव स्टोरी और इसके  किरदार के बारे में ज्यादा से ज्यादा जानना चाहते हैं।आइए जानते हैं बरेली लव स्टोरी की पूरी जानकारी।

साक्षी मिश्रा की ऐज क्या है?

साक्षी का जन्म 1995 में उत्तर प्रदेश के बरेली डिस्ट्रिक्ट में हुआ है। इस हिसाब से उसकी उम्र अभी 23 साल कुछ महीने की है।साक्षी बरेली के बिथरीपूर चैनपूर के विधायक राजेश मिश्रा उर्फ पप्पू भरतौल की बेटी है हाल में उसने जयपुर के एक कॉलेज से मास कम्युनिकेशन की बैचलर डिग्री हासिल की है।उसके परिवार में माता-पिता के अलावे दो बहन और एक भाई है।भाई का नाम विक्की भरतौल है।साक्षी ब्राह्मण जाति से है।

कौन है साक्षी का पति अजितेश सिंह

दलित समाज से आने वाले अजितेश बरेली के वीर सावरकर कॉलोनी में रहता है। रितेश का पिता का नाम हरीश नायक है। उसके परिवार में उसके पिता के अलावे  एक भाई और दो बहने हैं। भाई और एक बहन की शादी हो चुकी है। विवाहिता बहन का नाम अंशिका है और दूसरी बहन का नाम अवंतिका है। मां का देहांत हो चुका है। बड़े भाई अभिषेक बिजनेस करते हैं।अभी तक अजितेश का उम्र  पता नहीं चल पाया है। खबरों के अनुसार उसके और साक्षी के उम्र में काफी अंतर है

अजितेश के बारे में पड़ोसियों ने किया सनसनी खुलासा

साक्षी के दलित हस्बैंड अजितेश  को पड़ोसियों ने नशेड़ी और आवारा किस्म का लड़का बताया है।पड़ोसियों के अनुसार वे मुहल्ले के लडकियों से  छेड़छाड़  किया करता था। वो बंदूकों का शौकीन है। अजितेश के कई वीडियो वायरल हुए हैं। जिसमें  उसे तमंचे के साथ देखा गया है। एक और वीडियो में वह नशे का सेवन करते हुए पाया गया है।

अजितेश और साक्षी वायरल वीडियो में क्या है?

ये लव स्टोरी तब फेमस हो गई जब अजितेश और साक्षी ने वीडियो बनाकर अपनी जान पर खतरा होने का एहसास जताया। वायरल वीडियो के अनुसार अजितेश दलित है  और साक्षी ब्राह्मण। इसके कारण साक्षी  के परिवार वाले इस रिश्ते के खिलाफ।मजबूरी बस दोनों को भाग कर शादी करना  पड़ा। अब दोनों ने अपनी जान का खतरा बताया है। यह जान का खतरा  उसने अपने पिता से बताया है।

क्यों हुई  साक्षी अपने परिवार के खिलाफ

राष्ट्रीय चैनल पर दिये इंटरव्यू में साक्षी ने बताया वो जीवन में कुछ करना चाहती थी। वो आगे पढ़ाई करना चाहती थी। पिता के कामों में हाथ बंटाना चाहती। साक्षी के अनुसार परिवार वाले लड़का-लड़की में भेदभाव रखते थे उसकी कहीं शादी कर एक गृहिणी बनाना चाहते थे। अजितेश साक्षी के  विचारों को सपोर्ट किया करते थे। इसलिए दोनों में दोस्ती गहरी होती चली गई।

Leave a Reply