Sarvan Kumar 18/03/2020

Last Updated on 18/03/2020 by Sarvan Kumar

दुनिया भर में कोहराम मचा रहे कोरोना वायरस ने पाकिस्तान में भी हड़कंप मचाना शुरू कर दिया है. जिस तेजी से कोरोनावायरस पाकिस्तान में पैर पसार रहा आशंका जताई जा रही यहां की हालात इटली और ईरान जैसी हो सकती है. ताजा आंकड़ों के मुताबिक पाकिस्तान में अब तक कोरोना के 237 पॉजिटिव मामलों की पुष्टि हो चुकी है. कोरोना का सबसे ज्यादा प्रकोप सिंध प्रांत में देखने को मिल रहा है, जहां अब तक कोरोना के 172 पॉजिटिव मामले मामलों की पुष्टि हो चुकी है. अन्य प्रांतों की बात करें तो पंजाब में 26, बलूचिस्तान में 16, ख़ैबर पख़्तूनख़्वा में 16, पाकिस्तान शासित कश्मीर में कोरोना के पांच पॉजिटिव मामले सामने आए हैं.

जैसे-जैसे पाकिस्तान में कोरोना का प्रभाव बढ़ रहा इसके साथ ही कोरोना से लड़ने के लिए पाकिस्तान की तैयारी का भी पोल खुलने लगा है. पाकिस्तान में मास्क और सैनिटाइजर की भारी किल्लत है. कोरोना संक्रमित संदिग्धों को आइसोलेशन सेंटर के नाम पर असुविधाजनक टेंटों में रखा जा रहा है, जहां न उन्हें उचित सुविधाएं मिल मिल पा रही ना अच्छा खाना.

कोरोना के चलते पूरे पाकिस्तान में डर का माहौल है. मौके की गंभीरता को देखते हुए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री भी काफी चिंतित हैं. मंगलवार को उन्होंने टीवी पर आकर पाकिस्तान के अवाम से अपील की है कि वो कोरोना से ना घबराए.

प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपने संबोधन में स्पष्ट शब्दों में कहा कि पाकिस्तान एक गरीब देश है. अगर दूसरे देशों की तरह हम अगर हर चीजों को बंद करना शुरू कर देंगे तो और तो पाकिस्तान के आर्थिक हालात बद से बदतर हो जाएंगे. अगर सिनेमाघर, बाजार, शॉपिंग मॉल, दुकाने और रेस्टोरेंट बंद कर दिए जाएंगे तो पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था पूरी तरह से बर्बाद हो जाएगी, खाने के लाले पड़ जाएंगे और जनता भूखी मर जाएगी.

इमरान खान ने पाकिस्तान लोगों से आग्रह किया है कि वह कोरोना से सुरक्षा के लिए जारी किए गए गाइडलाइंस का पालन करें. खान ने धर्म गुरुओं से अपील किया है कि वह लोगों के पास जाकर कोरोना वायरस से बचने के सही जानकारी दें ताकि कोरोना से दहशत का माहौल ना बने.

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने अमीर और विकसित देशों से आग्रह किया है कि कोरोना के कारण गरीब देशों के अर्थव्यवस्था पर बुरा असर पड़ेगा जिसके कारण उनके लिए कोरोना से लड़ना मुश्किल हो जाएगा. ऐसे में अमीर देशों को चाहिए कि वह गरीब देशों का मदद करके कोरोना से लड़ने में मदद करें. इमरान खान ने ईरान का हवाला देते हुए कहा कि ईरान पर आर्थिक प्रतिबंध लगे हुए हैं जिसके कारण वहां कोरोना से ज्यादा मौतें हो रही हैं.

"चाहे हम किसी देश, किसी क्षेत्र में रह रहे हो ऑनलाइन शॉपिंग ने  दुनिया भर के दुकानदारों को हमारे कंप्यूटर में ला दिया है। अगर हमें कोई चीज पसंद नहीं आती है तो उसे हम तुरंत ही लौटा भी सकते हैं। काफी मेहनत और Research करने के बाद  हम लाएं है आपके लिए Best Deal Online.

"

Leave a Reply