Sarvan Kumar 30/03/2019

सिलिका जेल का पाउच नई बोतल या बैग में देखने को मिलता है.यह दूसरे तरह के सामानों में भी रहता है जैसे ब्रीफकेस, जूते का डब्बा इत्यादि. इस पाउच के ऊपर लिखा होता है-Through away do not eat. मतलब इसे खाए नहीं और दूर फेंक दें. हम इसे अपने बच्चों को पहुंच से दूर रखते हैं. ऐसे में मन में एक प्रश्न उठता है कि अगर इसे खा जाएं तो क्या नुकसान होगा. तो आइए जानते हैं कि सिलिका जेल खाने से क्या होता है. ये कितना नुकसान कर सकता है, सिलिका जेल की पूरी जानकारी.

सिलिका जेल के पाउच पर इंग्लिश में एक वर्ड लिखा होता है desiccant इसका मतलब क्या होता है?

desiccant का मतलब होता है शोषक यानि सोखने वाला. सिलिका जेल पानी को सोखता है इसीलिए इसे desiccant सिलिका जेल कहते हैं.

सिलिका जेल ( Silica gel) का केमिकल फार्मूला क्या है.

इसका फार्मूला सिलिकॉन डाइऑक्साइड होता(SiO2) है.यह एक amorphous सॉलिड है. इसके सतह पर Pores (छेद) होता है. इन pores के माध्यम से यह नमी (पानी )सोख लेता है. इन Pores का साइज लगभग 2.4 mm होता है. सिलिका जेल सोडियम सिलीकेट के सिंथेसिस से बनाया जाता है.

सिलिका जेल का रंग कैसा होता है?

सिलिका जेल तीन कलर में आता है व्हाइट ,ब्लू और ऑरेंज.

व्हाइट सिलिका जेल

जो सिलिका जेल पैकेट में होता है उसका कलर व्हाइट होता है .इसे हम desiccant white silica gel कहते हैं. बाजार में हम दूसरे कलर वाले यानि की ब्लू सिलिका जेल भी देखते हैं.

ब्लू सिलिका जेल और ऑरेंज सिलिका जेल

ब्लू सिलिका जेल में कोबाल्ट क्लोराइड डाला होता है जिसके कारण उसका कलर ब्लू होता है. जब सिलिका जेल पानी को सोखता है तो इसका कलर धीरे-धीरे ब्लू से ऑरेंज हो जाता है. मतलब यह हुआ कि कोबाल्ट क्लोराइड इंडिकेटर के तौर पर डाला होता है. जिससे कि हम यह पता कर सकते हैं कि जब तक यह ब्लू है तब तक उसमें ज्यादा पानी नहीं है. जैसे-जैसे इसका कलर ब्लू से ऑरेंज होता चला जाएगा तो इसमें पानी का मात्रा भी बढ़ता चला जाएगा . पूरी तरह से ऑरेंज हो जाने के बाद सिलिका जेल और ज्यादा पानी नहीं सोख पाएगा और अब हम उसका यूज़ नहीं कर सकते. ऐसे हम ऑरेंज सिलिका जेल से पानी निकाल कर फिर से यूज कर सकते हैं . ऐसा करने के लिए बस उसे हम आग पर गर्म कर सकते हैं.

पैकेट के अंदर क्यों डाला होता है व्हाइट सिलिका जेल?

 

जैसा कि अब तक आप समझ गए होंगे कि सिलिका जेल पानी सोखता है.सिलिका जेल अपने वजन के 40% तक पानी सोख सकता है.पैकेट के अंदर नमी बढ़ जाने से अंदर रखी चीजों का खराब होने का खतरा रहता है  .नमी होने के कारण वहां पर कीटाणु भी फैल सकते हैं.तो बस साधारण सी बात है कि पानी के कारण चीजें खराब ना हो जाए इसलिए सिलिका जेल का पाउच अंदर डाला होता है.

सिलिका जेल से दूसरे तरह का यूज

यह कोई जरूरी नहीं है कि हम सिलिका जेल के पाउच को पैकेट के अंदर ही डालें .हम इसका यूज कहीं भी ऐसी जगह कर सकते हैं जहां नमी की मात्रा ज्यादा है. तो अगर हमें कोई भी गीली चीज या कमरे के अंदर भी नमी ज्यादा हो गई हो तो हम सिलिका जेल यूज़ कर सकते हैं. सिलिका जेल द्वारा नमी सूखने की प्रक्रिया को adsorption कहते हैं.

सिलिका जेल खाने से क्या होता है?

सिलिका जेल पाउच
सिलिका जेल पाउच

व्हाइट सिलिका जेल ऐसे तो poisonous नहीं होता इसे हम छू सकते हैं और इससे हमें कुछ नहीं होगा . यह दूसरे तरह से हमें नुकसान पहुंचा सकता है. इसे निगल जाने पर यह कहीं शरीर के अंदर फंस सकता है. ऐसे में यह नुकसान पहुंचा सकता है. ऐसा होने पर तुरंत डॉक्टर से मिले. छोटे बच्चों से इसे जरूर दूर रखें क्योंकि छोटे बच्चे खाने पीने वाले सामान और बेकार सामान में फर्क नहीं कर पाते. ब्लू सिलिका जेल और ऑरेंज सिलिका जेल जरूर प्वाइजनस होता है.

Leave a Reply