Sarvan Kumar 10/04/2018

हिजाब पहनने से कर दिया था इंकार! जानिये कौन हैं Commonwealth Games में भारत को स्वर्ण दिलाने वाली हीना सिद्धू
हिना सिद्धू ने हिजाब पहनकर खेलने से कर दिया था इनकार.
भारतीय महिला निशानेबाज हीना सिद्धू ने हिजाब पहनने की अनिवार्यता के चलते ईरान में होने वाली एशियन एयरगन शूटिंग चैंपियनशिप से नाम वापस ले लिया है.भारत की स्टार निशानेबाज हीना सिद्धू ने 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में महिलाओं की 25 मीटर पिस्टल निशानेबाजी स्पर्धा में राष्ट्रमंडल खेल रिकार्ड बनाने के साथ स्वर्ण पदक अपने नाम कर लिया. हिना के लिए यह गोल्ड कोस्ट खेलों में दूसरा पदक है. इससे एक दिन पहले उन्होंने 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में रजत पदक जीता था. हिना का राष्ट्रमंडल खेलों में यह कुल चौथा पदक भी है.

जीवन परिचय
1. 29 अगस्त 1989 में पंजाब के लुधियाना में हिना सिद्धू का जन्म हुआ.

2. हिना के पिता राजदीप सिंह सिद्धू, एक्साइज एंड टैक्सेशन महकमे में उच्चाधिकारी रहे हैं.

3. हिना सिद्धू ने बीडीएस तक पढ़ाई की है.

4. हिना ने 2010 में गुआंगझू (चीन) में एशियन गेम्स में 10 मीटर एयर पिस्टल में गोल्ड मेडल जीता.

5. 2010 कॉमनवेल्थ गेम्स में इसी इवेंट में महिला व्यक्तिगत वर्ग में गोल्ड मेडल जीता. वह 2012 लंदन और 2016 रियो डी जेनेरियो ओलंपिक्स में भी भारत का प्रतिनिधित्व कर चुकी हैं.

6. 19 साल की उम्र में हिना ने हंगेरियन ओपन जीता और 2009 में बीजिंग में हुए वर्ल्ड कप में रजत पदक जीता.

7. हिना ने निशानेबाज रौनक पंडित से शादी की, जो बाद में उनके कोच बने.

8. साल 2013 की विश्व शूटिंग प्रतियोगिता में 10 मीटर एयर पिस्टल टूर्नामेंट में वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाकर हिना स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला बनीं.

9. विश्व रैंकिंग में नंबर वन रह चुकीं हिना को 2017 में फोर्ब्स ने ‘अंडर-30 यंग अचीवर्स’ की सूचि में शामिल किया.

10. शूटिंग करने के अलावा हिना को किताबें पढ़ना और नई जगहों पर घूमना पसंद है. हिना को खेल, एनॉटमी, मनोविज्ञान और इंटीरियर डिज़ाइनिंग से जुड़ी किताबें पढ़ना पसंद हैं.

11. निशाना साधने वाले हिना के हाथ पेंटिंग और स्केंचिंग भी कर लेते हैं.

हिना सिद्धू के बारे मे रोचक जानकारी

1.हिना सिद्धू का कहना था कि वे क्रांतिकारी नहीं है ले‍किन व्‍यक्तिगत रूप से उन्‍हें लगता है कि किसी खिलाड़ी के लिए हिजाब पहनना अनिवार्य करना खेल भावना के लिए ठीक नहीं है. एक खिलाड़ी होने का उन्‍हें गर्व है क्‍योंकि अलग-अलग संस्‍कृति, पृष्‍ठभूमि, लिंग, विचारधारा और धर्म के लोग बिना किसी पूर्वाग्रह के एक दूसरे से खेलने को आते हैं. सिद्धू ने लिखा, ”खेल मानवीय प्रयासों और प्रदर्शन का प्रतिनिधित्‍व करता है.”

2. 2017 ने फोर्ब्स इंडिया ने 30 अंडर 30 लिस्ट मे किया गया शामिल
2017 ने फोर्ब्स इंडिया ने 30 अंडर 30 लिस्ट जारी किया ज़िसमे ऐसे युवाओं को शामिल किया गया जो 30 साल से कम उम्र थे और जिन्होंने अपने-अपने क्षेत्र में बेहतरीन काम किया है. इस लिस्ट में शूटर हिना सिद्धू शामिल किया गया था.

3. हिना सिद्धू को 2014 में इन्हें अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया गया.

4. कभी डॉक्टर ने उंगली से कुछ पकड़ने से हिना को मना कर दिया था…पर वो नही मानी, बन गई वर्ल्ड चैम्पियन

Leave a Reply