Sarvan Kumar 16/09/2020

शिवसेना बनीं  कांग्रेस सेना!

बीएमसी द्वारा कंगना राणावत के ऑफिस तोड़े  जाने का मामला तूल पकड़ते जा रहा है. महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार और कंगना के बीच चल रही तनातनी का यह मुद्दा मंगलवार को लोकसभा में भी सुनाई दिया. हिमाचल प्रदेश के मंडी से सांसद बीजेपी सांसद ने इस मुद्दे को उठाते हुए शिवसेना को कांग्रेस सेना करार दिया है.

संसद में शून्यकाल के दौरान कंगना के दफ्तर तोड़ने के मुद्दे को उठाते हुए मंडी के सांसद रामस्वरूप शर्मा ने कहा कि कंगना हिमाचल की बेटी है और जिस तरह से पिछले कुछ दिनों से महाराष्ट्र सरकार उनके साथ व्यवहार कर रही है उसकी निंदा की जानी चाहिए. शर्मा ने आगे कहा कि ना सिर्फ कंगना के साथ दुर्व्यवहार किया जा रहा बल्कि करोड़ों की लागत से बनी उनके ऑफिस को भी नष्ट कर दिया गया है. शिवसेना पर कांग्रेस सेना बनने का आरोप लगाते हुए रामस्वरूप शर्मा ने कहा कि छत्रपति शिवाजी महाराज के आदर्शों पर बालासाहेब ठाकरे द्वारा बनाई गई की शिवसेना अब कांग्रेस सेना बन कर रह गई है.

वहीं, अभिनेत्री कंगना राणावत एक के बाद एक ट्वीट करके कांग्रेस और शिवसेना पर निशाना साध रही हैं. ट्विटर पर स्वर्गीय बाला साहब ठाकरे का एक वीडियो शेयर करते हुए कंगना ने लिखा है, ‘महान बाला साहब ठाकरे मेरे पसंदीदा आईकॉन में से एक हैं. उनका सबसे बड़ा डर था कि किसी दिन शिवसेना कांग्रेस से गठबंधन करेगी और खुद कांग्रेस बन जाएगी’

एक दूसरे ट्वीट में कंगना ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को घेरते हुए कहा है, ‘आदरणीय कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी जी, एक महिला होने के नाते क्या आप महाराष्ट्र में आप की सरकार द्वारा किए गए व्यवहार पर दुखी नहीं हैं? क्या आप बाबा साहेब भीमराव द्वारा हमें दिए गए संविधान के सिद्धांतों को बनाए रखने के लिए अपनी सरकार से अनुरोध नहीं कर सकतीं?

बता दें कि महाराष्ट्र में अभी शिवसेना एनसीपी और कांग्रेस की गठबंधन सरकार सत्ता में है. कंगना राणावत मूल रूप से हिमाचल प्रदेश के मनाली की रहने वाली हैं. मनाली मंडी लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र के अंतर्गत आता है.

Leave a Reply