Sarvan Kumar 27/05/2018

दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस वे का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेेंद्र मोदी सुबह 10 बजे करेंगे. इसे एक ग्रैंड शो बनाने के लिए मोदी सरकार ने जबरदस्त तैयारियां की हैं. किसी भी देश की लाइफलाइन उसकी सड़कें होती हैं और आज (रविवार) से शुरु होने जा रहा ईस्टर्न पेरिफेरल एक्‍सप्रेस वे और दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस वे इसी की पहचान है. जानकारी के अनुसार  सबसे पहले प्रधानमंत्री निजामुद्दीन-रिंग रोड जंक्शन पर पहुंचेंगे, जहां केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी के अलावा दिल्ली के सभी सातों सांसद यहां उनकी अगवानी करेंगे. यहां पहले उन्‍हें एक्सप्रेस-वे से जुड़ी सभी महत्‍वपूर्ण जानकारियां दी जाएंगी, जिसके बाद पीएम खुले वाहन में निजामुद्दीन-रिंग रोड जंक्शन से लेकर पटपड़गंज पुल तक के लगभग साढ़े छह किमी. के हिस्से का मुआयना भी करेंगे. उनका यह रोड शो निजामुद्दीन ब्रिज से शुरू होगा. यह दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे का लगभग 9 किलोमीटर का पहला चरण है.

दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस वे की खासियतें

1. 96 किलोमीटर लंबा दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे 841 करोड़ की लागत से तैयार हुआ है.
2. यमुना ब्रिज पर हाईवे के दोनों ओर सोलर सिस्टम लगे हैं.
3. यह देश का पहला ब्रिज होगा, जिस पर वर्टिकल गार्डन, सोलर पावर सिस्टम और ड्रिप सिंचाई के इंतजाम होंगे.
4. दिल्ली के निजामुद्दीन ब्रिज से यूपी के गाजियाबाद तक 6 लेन बनी हैं. इनमें से 4-4 लेन हाईवे की हैं.
5. एक्सप्रेस वे के दोनों ओर 2.5 मीटर चौड़ा साइकिल और पैदल यात्रियों के लिए 1.5 मीटर चौड़ा ट्रैक बना हुआ है.
6. इस हाईवे का पहला चरण निजामुद्दीन से यूपी गेट, दूसरा चरण यूपी गेट से डासना, तीसरा चरण डासना से हापुड़ और चौथा चरण डासना से मेरठ में बना है
7. इसका काम रिकॉर्ड 17 महीने यानि करीब 500 दिन में काम पूरा हुआ.
8. दिल्ली से मेरठ और पश्चिमी उत्तर प्रदेश जाने वालों को जाम से निजात मिलेगी.
9. एक्सप्रेस वे से अब सिर्फ 45 मिनट में दिल्ली से मेरठ पहुंचा जा सकेगा.
10. अभी 96 किमी दूरी तय करने में करीब 3 घंटे तक लग जाते हैं.

Leave a Reply