Pinki Bharti 07/12/2018

एक ऑडिशन में हुए मुलाकात से शादी तक, काफी रोमांटिक और उतार चढाव से भरी है कपिल शर्मा और गिन्नी की लव स्टोरी। अपने प्यार को मंजिल तक लाने के लिए दोनों ने किया है 13 साल का इंतज़ार। एक बार तो गिन्नी के पापा ने कपिल शर्मा को रिजेक्ट भी कर दिया। लेकिन अंत में सच्चे प्यार की जीत हुयी।
आइये जाने कपिल शर्मा और गिन्नी की अनोखी लोव स्टोरी।

कैसे हुयी कपिल शर्मा और गिन्नी पहली मुलाकात?

कपिल शर्मा 2005 में किसी कॉलेज में ऑडिशन देने गए थे जहां उन्होंने गिन्नी को पहली बार देखा। कपिल उस समय छोटे-मोटे नाटकों को डायरेक्ट किया करते थे। उस वक्त कपिल 24 साल के थे और गिन्नी केवल 19 साल की थी। इसके बाद गिन्नी और कपिल रोजाना मिलने लगे थे। यहीं से उनका रिश्ता गहरा होता गया। गिन्नी कई बार कपिल के लिए अपने घर से खाना भी लाया करती थी।

कैसे हुयी प्यार की शुरुआत?

जान-पहचान और दोस्ती तो हो गई थी लेकिन शुरुआत में दोनों में प्यार-मोहब्बत का कोई चक्कर नहीं था। प्यार-मोहब्बत का मामला बाद में शुरू हुआ। कपिल को उनके एक दोस्त ने बताया कि गिन्नी उन्हें पसंद करती है। यह बात सुनकर कपिल हैरान रह गए।इसके बाद उन्होंने सीधे गिन्नी से ही पूछ लिया कि क्या वह उन्हें पसंद करती है? गिन्नी का जवाब था-हां!

जब दोनों का रिश्ता टूटने के कगार पर आ गया!

इस तरह से दोनों की दोस्ती प्यार में बदल गई और उनका रिश्ता मजबूत होता चला गया। लेकिन एक वक्त ऐसा भी था जब दोनों गलतफहमी के शिकार हो गए थे और दोनों का रिश्ता टूटने के कगार पर आ गया था।

निराश कपिल ने गिन्नी से कहा- हमारे प्यार का कोई भविष्य नहीं है। कपिल शर्मा छोटे-मोटे स्टेज कॉमेडी शो करने लगे। अपने करियर को नई दिशा देने के लिए कपिल मुंबई आ गए। मुंबई आकर कपिल ने कई ऑडिशन दिए लेकिन बात कुछ आगे नहीं बढ़ पा रही थी। कपिल निराश हो गए। कपिल उन दिनों आर्थिक तंगी से गुजर रहे थे। कपिल के मन में विचार आया कि इस आर्थिक तंगी में वह कैसे किसी का साथ निभा पायेंगे। उन्हें लगा कि वह गिन्नी को एक सुनहरा भविष्य नहीं दे सकते।

आर्थिक स्थिति में गिन्नी का परिवार कपिल के परिवार से काफी अच्छा था। निराश कपिल ने मुंबई से गिन्नी को कॉल किया और कहा कि आगे से गिन्नी उनसे कोई संपर्क नहीं रखें क्योंकि उनके रिश्ते का कोई भविष्य नहीं है।

पहली सफलता से सफलता के शिखर पर कपिल-

कहते हैं ना हिम्मत करने वालों की कभी हार नहीं होती! कपिल तमाम परेशानियों का सामना करने के बावजूद मुंबई में संघर्ष करते रहे। आखिरकार तक़दीर ने साथ दिया और उनका सिलेक्शन एक टीवी शो में हो गया।कपिल के लिए कामयाबी की यह पहली बड़ी सीढ़ी थी।
कपिल शर्मा और गिन्नी भले ही एक दूसरे से दूर थे लेकिन फिर भी एक दूसरे से बेहद करीब थे। जब गिन्नी को यह बात पता चली तो गिन्नी ने फोन करके कपिल को इस कामयाबी पर बधाई दिया।

धीरे-धीरे कपिल सफलता की बुलंदियों पर चढ़ने लगे। नाम, पैसा और शोहरत कपिल के कदम चूमने लगी।कपिल भारत ही नहीं और दुनिया भर में फेमस हो गए। कपिल अब मुंबई में पूरी तरह से सेट हो चुके थे। कामयाबी के शिखर पर भी कपिल अपने पुराने प्यार गिन्नी को दिल से निकाल नहीं सके।

जब गिन्नी के पिता ने ठुकरा दिया रिश्ता-

कपिल का काम निकल पड़ा और वो काफी लोकप्रिय होने लगे। उनके पास अब नाम और पैसा दोनों आने लगा था। कपिल को लगा कि अब वह गिन्नी के साथ रिश्ते को आगे बढ़ा सकते हैं। उन्होंने अपनी मां को रिश्ता लेकर गिन्नी के घर भेजा। लेकिन गिन्नी के पिता ने बड़े अदब से दोनों के रिश्ते को ठुकरा दिया। इसके बाद कपिल अपने काम में बिजी हो गए उधर गिन्नी भी अपने पढ़ाई पूरी करने में व्यस्त हो गई।

जब गुमनाम होने लगे कपिल-

कहते हैं सफलता मिलना आसान है लेकिन सफलता कायम रखना काफी मुश्किल है। कपिल के साथ भी ऐसा ही हुआ। कपिल कामयाबी की बुलंदी पर पहुंच तो गए लेकिन पर कपिल के साथ भी वही हुआ जैसा दूसरों के साथ होता है। कपिल को कामयाबी का नशा हो गया कपिल को एक घमंड सा हो गया।
कपिल चापलूसों से घिर गए जो किसी तरह से कपिल का करियर बर्बाद कर देना चाहते थे। कपिल को कामयाबी का नशा हो गया। कपिल को सफलता का एक घमंड सा हो गया। साथी कलाकारों के साथ उनका रिश्ता बिगड़ने लगा। कपिल के शो का टीआरपी कम होने लगा और उनका शो बंद हो गया। कपिल कई तरह के विवादों में घिर गए। लोग कपिल से दूरी बनाने लगे थे। कपिल शराब पीने लगे। कपिल का नाम दूसरी लड़कियों से भी जुड़ने लगा उनका वजन बढ़ गया और उनका करियर थम सा गया। कपिल गुमनाम होने लगे।

कपिल को बुरे वक्त में गिन्नी ने दिया साथ-

ऐसे मौके पर कपिल को एक ऐसे इंसान की जरूरत महसूस हुई जो उनके भावनात्मक जरूरतों को समझें , जो उनमें से सारे नकारात्मक चीजों को निकाल दे ,जो उनका सपोर्ट बने और एक बार फिर से सही रास्ते पर ले आए। कामयाबी, शोहरत और दौलत होते हुए भी कपिल अकेलापन का शिकार होने लगे। उन्हें अपनी जिंदगी खोखली लगने लगी। ऐसे मौके पर कपिल को फिर से अपने पुराने प्यार गिन्नी चतरथ की याद आई। और गिन्नी ने कपिल को फिर से संभाल लिया। गिन्नी कपिल को नाकामयाबी और डिप्रेशन के दौर से निकाल कर फिर से सही रास्ते पर ले आई।

आख़िरकार मान गए गिन्नी के घरवाले: सच्चे प्यार को मिल गयी मंजिल

समय के साथ उनके परिवार वालों को भी लगा कि दोनों एक दूसरे को कितना पसंद करते हैं और दोनों एक दूसरे के लिए बने हैं। कपिल ने एक बार फिर से प्रयास किया और इस बार किस्मत ने भी साथ दिया। गिन्नी के परिवार वाले इस बार मान गए और शादी के लिए राज़ी हो गए।

दिसंबर 2018 में  हो रही है कपिल शर्मा और गिन्नी की शादी

12 दिसंबर, 2018 को दोनों की शादी दोनों परिवार की सहमति से बड़े धूमधाम से हो रही है। इस तरह से 13 साल के उतार-चढ़ाव के बाद आखिरकार सच्चे प्यार को एक अपनी मंजिल मिल रही है।

कहते हैं ना जिसके साथ सच्चा प्यार हो उसका कोई भी बुरा नहीं कर सकता। अब तो कपिल का एक नया शो भी आने वाला है। ईश्वर कपिल और गिन्नी के जोड़ी को सलामत रखे।

जानकारी टुडे की ओर से कपिल और गिन्नी को सुखी वैवाहिक जीवन की हार्दिक शुभकामनाएं!!

Leave a Reply