Sarvan Kumar 04/08/2021

स्वाद और गुणों से भरपूर भिंडी एक लोकप्रिय सब्जी है. इसे भारत में राम तरोई, भींडा और भेंडी के नाम से भी जाना जाता है. इसे अंग्रेजी में ओकरा (Okra) और उंगली जैसी बनावट होने के कारण लेडीस फिंगर (Ladies’ finger) भी कहा जाता है. आमतौर पर भिंडी का पौधा 1 मीटर लंबा होता है, लेकिन यह 2 मीटर तक भी लंबा हो सकता है. इसकी खेती विश्व के विभिन्न देशों में होती है,जिसमें भारत, नाइजीरिया, सूडान, पाकिस्तान, घाना, मिश्र, सऊदी अरब और मेक्सिको प्रमुख हैं. पूरे भारत में इसकी खेती होती है. वैश्विक उत्पादन के मामले में भारत दुनिया का सबसे बड़ा भिंडी उत्पादक देश है. आइये जानते हैं भिंडी खाने के फायदे।

भिंडी में क्या पाया जाता है?

कच्चे भिंडी में 90% पानी, 2% प्रोटीन, 7.5% कार्बोहाइड्रेट, और नगण्य मात्रा में वसा पाया जाता है. इसमें प्रचुर मात्रा में आहार फाइबर पाया जाता है. इसमें में पाए जाने वाले प्रमुख विटामिन हैं- विटामिन C, विटामिन B3, विटामिन K, विटामिन E और विटामिन A. इसमें पोटैशियम, कैल्शियम, फास्फोरस और मैग्नीशियम जैसे खनिज पर्याप्त मात्रा में पाए जाते हैं.

शरीर को पोषण देने के साथ-साथ भिंडी में कई ऐसे औषधीय गुण हैं जो विभिन्न प्रकार की समस्याओं और बीमारियों में लाभदायक हैं. आइए जाने भिंडी खाने के फायदे-

भिंडी खाने के फायदे

कैंसर

भिंडी में प्रचुर मात्रा में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट कैंसर से बचाव में सहायक हैं. भिंडी विशेष रुप से कोलोन कैंसर से बचाव में बहुत फायदेमंद है. यह आंतों में मौजूद जहरीले पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करती है, जिससे आंतें स्वस्थ रहती हैं.

हृदय रोग

भिंडी में पाए जाने वाला पेक्टिन और घुलनशील फाइबर ब्लड कोलेस्ट्रॉल लेवल को नियंत्रित करने में सहायक है, जिससे हृदय रोग का खतरा कम हो जाता है

ब्लड शुगर/डायबिटीज

इंसुलिन जैसे गुण पाए जाने के कारण भिंडी मधुमेह के रोगियों के लिए ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित करने में सहायक है.

हड्डी को बनाएं मजबूत

मंडी में मौजूद विटामिन के और कैल्शियम, फास्फोरस जैसे खनिज हड्डियों को मजबूत बनाने और स्वस्थ रहने में सहायक होते हैं. यह जोड़ों के दर्द में भी राहत पहुंचाता है.

रोग प्रतिरोधक क्षमता (Immunity)

पर्याप्त मात्रा में विटामिन सी और एंटी ऑक्सीडेंट होने के कारण भिंडी हमारे इम्यूनिटी को बढ़ाता है और हमें तरह-तरह की बीमारियों से बचाता है. विटामिन C हमारे खून में मौजूद श्वेत रक्त कोशिकाओं (WBC) को बनाने के लिए इम्यूनिटी सिस्टम को प्रेरित करती है.

आंखों के लिए लाभदायक

भिंडी में विटामिन A, बीटा कैरोटीन और एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है जो हमारे आंखों को स्वस्थ रखता है और हमें मोतियाबिंद से बचाने में लाभदायक है

हाई ब्लड प्रेशर

भिंडी पोटेशियम का स्रोत है. पोटैशियम पोटेशियम का सेवन करने से सोडियम मूत्र के रास्ते शरीर से बाहर निकल जाता जाता है. पोटेशियम रक्त वाहिकाओं की दीवारों में तनाव तनाव को कम करने में मदद करता है और रक्तचाप को कम करने में मदद करता है.

कब्ज/पाचन क्रिया

प्रचुर मात्रा में फाइबर और चिपचिपा पदार्थ मौजूद होने के कारण यह पाचन क्रिया के लिए लाभदायक होता है. प्रतिदिन पर्याप्त मात्रा में भिंडी का सेवन कब्ज, पेट फूलना, ऐंठन, गैस, दस्त रोकने, पेट के अल्सर और अन्य उदर संबंधित समस्याओं में लाभदायक है.

मोटापा

कम मात्रा में वसा पाए जाने के कारण भिंडी मोटापा कम करने में सहायक है. अगर आप अपना वजन कम करना चाहते हैं तो अपने आहार में ज्यादा भिंडी खाएं.

त्वचा

भिंडी का सेवन त्वचा के लिए लाभकारी है. इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट त्वचा को स्वस्थ रखने, दाग धब्बे मुंहासे को कम करने तथा क्षतिग्रस्त त्वचा कोशिकाओं को मरम्मत करने में मदद करता है. भिंडी के फल को पीसकर लगाने से खुजली ठीक हो जाती है.

Leave a Reply