Sarvan Kumar 20/07/2020

खानपुर प्रखंड, समस्तीपुर, बिहार क्षेत्र के किसान सब्जी उत्पादन करने में अहम् योगदान निभातें है। यहाँ से प्रत्येक दिन किसानों द्वारा उत्पादित सब्जी पश्चिम बंगाल , पटना, दरभंगा, मधुबनी, सहरसा सुपौल, बेनीपुर, सहित अन्य जगहों पर  निर्यात की जाती है। प्रखंड क्षेत्र के सिरोपट्टी, डेकारी ,शोभन, रेबड़़ा , अमसौर, टेढा, मसीना, भोरे, मनवारा सहित अन्य गांव के किसान बैगन, परवल, लौकी, नेनुआ, भिंडी, खीरा, मूली, हरी मिर्च, फूल गोभी, टमाटर सहित अन्य प्रकार के सब्जी पैदावार करने में अग्रणी भूमिका निभाते है। आज मूसलाधार बारिश के कारण सैकड़ो एकड़ में लगी फसल डूबकर तबाह हो गया है।  यहाँ के किसान भोला महतो, शंकर महतो, कौशल चौधरी, राम विनय महतो, राम प्रकाश महतो, कहते हैं कि सब्जी का फसल तो डूब गया ही अब हम लोगों के सामने जीवन यापन की समस्या उत्त्पन्न हो गयी है ।

सिरोपट्टी गांव के किसान हर मौसम में हर प्रकार के सब्जी उत्पादन कर अच्छी आमदनी कर लेतेंं हैं उन्होंने मौसम के अनुसार नर्सरी में सब्जी बीज का पौधा तैयार करने में महारथ हासिल कर रखा है। इस गांव के बोल बम नर्सरी चलाने वाले  सत्य नारायण महतो, बिनोद महतो, सुरेश महतो, राम प्रसाद महतो, राम प्रयाग महतो, राम बहादुर महतो, दीप नारायण महतो, ननकी महतो आदि कहते हैं कि हम लोगों ने काफी खर्च  कर हाइब्रिड फूल गोभी, बैगन, हरी मिर्च ,टमाटर इत्यादि के बीज नर्सरी में  तैयार किया था। यहाँ से दूर -दूर के किसान अपने खेत मे सब्जी उगाने  के लिए बीज ले जाते हैं । जो बीज बोने  लायक तैयार हो चुका था मूसलाधार बारिश ने उसे डुबो दिया।

अब  हमलोगों को खाने पीने की आफत हो गयी। कोरोना माहामारी के कारण पहले से ही भुखमरी की समस्या बनी थी। किसी तरह लोकल महाजन से रुपये लेकर सब्जी का बीज नर्सरी में तैयार किया था। मूसलाधार बारिश ने लोगों  के थाली से सब्जी गायब कर दी है । सैकड़ो एकड़ में लगी सब्जी फसल व नर्सरी में उगे सब्जी के पौधे तबाह हो गयाा है।

Leave a Reply