Ranjeet Bhartiya 30/03/2020
जाट गायक सिद्धू मूसेवाला आज हमारे बीच नहीं है पर उनकी याद हमारे दिलों में हमेशा बनी रहेगी। अपने गानों के माध्यम से वह अमर हो गए हैं । सिद्धू मूसेवाला की 29 मई को मानसा जिले में उनके घर से कुछ किलोमीटर दूर ही गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. हत्या किसने और किस वजह से की यह तो जांच के बाद ही पता चल पाएगा लेकिन हमने जाट समाज का एक अनमोल रत्न खो दिया है। उनके फैंस पर गमों का पहाड़ टूट पड़ा है। jankaritoday.com की टीम के तरफ से उनको एक सच्ची श्रद्धांजलि! Jankaritoday.com अब Google News पर। अपनेे जाति के ताजा अपडेट के लिए Subscribe करेेेेेेेेेेेें।
 

Last Updated on 30/03/2020 by Sarvan Kumar

कोरोना महामारी के रोकथाम के लिए लॉक डाउन के कारण देश में अफरा तफरी का माहौल है. पलायन को मजबूर हुए लोग यातायात की सुविधा के अभाव में कई जगह फंस गए हैं. जिसके कारण उन्हें कई प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. सरकार और प्रशासन के द्वारा दावा तो किया जा रहा है कि सभी को मदद दी  जाएगी, लेकिन लोगों का कहना है कि उन्हें मदद नहीं मिल रहा है.

इस कठिन समय में पप्पू यादव मदद के लिए सामने आए हैं. उन्होंने अपना मोबाइल नंबर  जारी करते हुए कहा है कि लॉक डाउन से परेशान लोग अगर कहीं फस गए हैं तो उन्हें कॉल करें.

पप्पू यादव कोरोना हेल्पलाइन नंबर

पप्पू यादव ने ट्वीट करके कहा है कि, “आप जहां कहीं इस लॉकडाउन में फंसे हों, किसी तरह की कोई परेशानी हो आप मेरे मोबाइल नंबर 9868180987 पर संपर्क करें. हरसंभव मदद का प्रयास रहेगा. मेरे समर्पित साथी आपकी मदद को पहुंच जाएंगे पैसे ऑनलाइन आपके खाते में डाल दिया जाएगा. 22 मार्च से ही यह सेवा कार्य अनवरत चल रहा है.”

पप्पू यादव ने कहा कि लॉक डाउन के दौरान फंसे हुए लोगों के साथ दुर्व्यवहार किया जा रहा है. उनके पास खाना नहीं है. मकान मालिक लोगों को निकाल रहे हैं. मकान मालिकों को चाहिए कि 2 महीने का किराया फ्री करें. पप्पू यादव ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से भी अनुरोध किया है कि बिहार को सील नहीं किया जाए तथा राज्य के बाहर जो बिहारी फंस गए हैं उनकी पहचान करके उन्हें सुरक्षित घर पहुंचाने का प्रबंध किया जाए.

पलायन कर रहे लोगों को ₹500

पप्पू यादव ने बताया कि बिहार के बाहर फंसे लोगों ने उन्हें तमिलनाडु, महाराष्ट्र, पंजाब, दिल्ली, गुवाहाटी, राजस्थान आदि जगहों से कॉल किया है. उन्होंने ऑनलाइन ट्रांसफर के माध्यम से लोगों के खाते में पैसा डाल कर मदद पहुंचाने का कार्य किया है. पप्पू यादव दिल्ली की सड़कों पर उतर कर पलायन कर रहे लोगों को ₹500 भी दे रहे हैं.

ऐसा पहली बार नहीं है कि पप्पू यादव जरूरतमंदों की मदद कर रहे हो. जलजमाव के कारण जब पटना में बाढ़ आया था तब भी पप्पू यादव मदद के लिए सामने आए थे. उन्होंने खुद पानी में उतरकर लोगों तक खाना पानी तथा राशन पहुंचाया था.

आपको बता दें कि भारत सरकार ने भी कोरोना हेल्पलाइन नंबर जारी किया है आप वहां पर भी कॉल करें मदद ले सकते हैं।

Advertisement
Disclaimer: Is content में दी गई जानकारी Internet sources, Digital News papers, Books और विभिन्न धर्म ग्रंथो के आधार पर ली गई है. Content  को अपने बुद्धी विवेक से समझे। jankaritoday.com, content में लिखी सत्यता को प्रमाणित नही करता। अगर आपको कोई आपत्ति है तो हमें लिखें , ताकि हम सुधार कर सके। हमारा Mail ID है jankaritoday@gmail.com. अगर आपको हमारा कंटेंट पसंद आता है तो कमेंट करें, लाइक करें और शेयर करें। धन्यवाद

Leave a Reply