Pinki Bharti 03/06/2018

गर्भ धारण एक औरत के लिए जिंदगी का सबसे खूबसूरत लम्हा होता है. गर्भ धारण करने के साथ ही एक औरत की जिंदगी हमेशा के लिए बदल जाता है. गर्भवती होने और बच्चे को गर्भ में पालना एक बहुत बड़ी जिम्मेदारी है. इस जिम्मेदारी को सही ढंग से निभाने के लिए कई तरह की सावधानियां बरतने के साथ-साथ गर्भवती महिला को खुद को शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ रखना होता है, ताकि गर्भ में पल रहे बच्चे का भी संपूर्ण विकास हो. गयनेकोलॉजिस्ट्स भी मानते हैं गर्भावस्था में महिला जो कुछ भी करती है उसका सीधा असर गर्भ में पल रहे बच्चे पर पड़ता है. यही कारण है कि गर्भावस्था में स्वस्थ रहने के लिए आपके डॉक्टर कई सलाह देते हैं. एक गर्भवती के लिए खानपान , वर्कआउट और एक्सरसाइज का ख्याल रखना बहुत  ही ज़रूरी है. गर्भावस्था के दौरान सुंदर और स्मार्ट बच्चे के लिए करें ये उपाय.

1. संतुलित और पौष्टिक आहार

मां की डाइट जितना संतुलित और पौष्टिक होगा, बच्चे को उतना ही बेहतर पोषण भी मिलेगा. डाइट में ज्यादा से ज्यादा पोषक तत्वों को शामिल करें. ऐसा आहार लें जिसमे सभी पोषक तत्व – कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन्स, विटामिन्स , और मिनिरल्स सही मात्रा में हो जिससे माँ और बचे का पूर्ण पोषण हो.

2. टहलना

गर्भावस्था में टहलने के अनेक फायदे हैं. इससे तनाव कम होता है, कब्ज की समस्या से राहत मिलता है, थकान और कमजोरी कम होती है. हॉर्मोनल इम्बैलेंस नहीं होता और डिलीवरी के नॉर्मल होने की संभावना बढ़ जाती है. इन सब कारणों से गर्भ में पल रहे बच्चे का नार्मल विकास होता है और बच्चा स्मार्ट बनता है.

3. सुबह के वक्त सूरज की धूप लेना

सुबह के समय 15 -20 मिनट धूप लेना, टहलना और ताजी हवा लेना हमें अनेक प्रकार के बीमारी से बचाता है. साथ ही बच्चे को भी स्मार्ट और स्वस्थ बनाता है.

4. सकारात्मक माहौल

गर्भावस्था में अगर घर का माहौल तनावमुक्त और सकारात्मक रहे तो इसका गर्भ में पल रहे बच्चे पर अनुकूल प्रभाव पड़ता है. इससे पॉजिटिविटी का संचार होता है और बच्चे का सही ढंग से विकास होता है और बच्चा स्मार्ट बनता है.

5. संगीत सुनना

गर्भावस्था में तनावमुक्त रहना बहुत ज़रूरी है. संगीत एक थेरेपी की तरह है. संगीत सुनने से मन खुश रहता है. तनाव से राहत मिलता है और पाजिटिविटी बढ़ती है. ऐसे में संगीत सुनना आपके और आपके बच्चे के लिए बहुत फायदेमंद होता है.

6. मां का स्पर्श

गर्भवती महिलाएं अकेले में अपने पेट पर हल्के हाथों से मसाज करें. आपके और आपके बच्चे के बीच यही एक दीवार है. फिर भी आपका बच्चा खुद को आपसे और बाहरी दुनिया से जोड़ने का प्रयास करेगा. बच्चे की ये कोशिश उसके विकास को और बेहतर बनाएगी और बच्चा स्मार्ट बनेगा.

Leave a Reply