Ranjeet Bhartiya 19/08/2022

अग्रवाल समुदाय की गिनती देश के समृद्धतम समुदायों में की जाती है. अग्रवाल सबसे प्रभावशाली और समृद्ध समुदायों में से एक हैं. इस समाज के लोग हर काम में हमेशा अग्रणी रहे हैं. उद्योग-व्यापार, प्रशासनिक सेवाओं, सामाजिक और धार्मिक कार्यों के माध्यम से देश के निर्माण में इस समुदाय का महत्वपूर्ण योगदान रहा है. विशेष […]

Sarvan Kumar 18/08/2022

अग्रवाल का संबंध वैश्य समुदाय से है. यह भारत के लगभग हर हिस्से में पाए जाते हैं. इनके व्यवसाय के कारण इन्हें बनिया के नाम से भी जाना जाता है. लेकिन क्या आप जानते हैं अग्रवालों का संबंध सूर्यवंशी क्षत्रियों से हैं? कैसे? आइए विस्तार से जानते हैं सूर्यवंशी अग्रवाल के बारे में- सूर्यवंशी अग्रवाल […]

Ranjeet Bhartiya 17/08/2022

हिंदू धर्म में कुलदेवी की पूजा का विशेष महत्व है. माना जाता है कि कुलदेवी या कुलदेवता सुरक्षा आवरण की तरह होते हैं जो कुल या वंश की रक्षा करते हैं. कुलदेवी या देवता की नाराजगी से घर बर्बाद होने लगता है. वहीं, अगर इनकी पूजा की जाती है और इन्हें प्रसन्न रखा जाता है […]

Ranjeet Bhartiya 16/08/2022

सचान (Sachan) कुर्मी जाति के क्षेत्रीय समूहो (उप जातियों) में से एक है. यह मुख्य रूप से भारत के उत्तर प्रदेश राज्य में पाए जाते हैं. देश की राजनीति में उत्तर प्रदेश की महत्वपूर्ण भूमिका रही है. उत्तर प्रदेश में पिछड़े वर्ग की कई जातियां निवास करती हैं. यादव, कुर्मी, कुशवाहा, जाट, गुर्जर, लोध जैसी […]

Ranjeet Bhartiya 15/08/2022

कुर्मी (Kurmi) क्षत्रिय मूल की एक कृषक जाति है. यह एक विशाल और व्यापक रूप से वितरित समुदाय है. भारत के कई राज्यों में इस समुदाय की उल्लेखनीय उपस्थिति है. यह विशाल समुदाय कई उपजातियों में विभाजित है. आइए जानते हैं गंगवार कुर्मियों के बारे में. गंगवार कुर्मी का इतिहास गंगवार (Gangwar) वृहद कुर्मी जाति […]