Ranjeet Bhartiya 04/01/2022

भोटिया या भोट (Bhotiya or Bhot) भारत और नेपाल में पाई जाने वाली एक प्रमुख जनजाति है. इस जनजाति के लोग हिमालयी बेल्ट के मूल निवासी हैं. यह मूल रूप से पारहिमालय क्षेत्र (Transhimalayan Region) में निवास करने वाले जातीय-भाषाई रूप से संबंधित तिब्बती लोगों का समूह है. बता दें कि पारहिमालय (Transhimalaya) तिब्बत में […]

Ranjeet Bhartiya 03/01/2022

नाइकड़ा या नैकदा (Naikda) भारत में पाई जाने वाली एक जनजाति है. इन्हें विभिन्न राज्यों में अलग-अलग नामों से जाना जाता है, जैसे महाराष्ट्र में इन्हें कातकरी  (Katkari) के नाम से जाना जाता है. कातकरी की उत्पत्ति “कथोरी” (kathori) शब्द से हुई है, जिसका अर्थ होता है-“जानवरों का खाल”.जीवन यापन के लिए यह जमीन और […]

Ranjeet Bhartiya 03/01/2022

तड़वी भील (Tadvi Bhil) भारत में पाया जाने वाला एक आदिवासी समुदाय है. यह वृहद भील समुदाय की एक उप-जाति (sub-caste) है. यह एक कृषक जनजाति है जो जीवन यापन के लिए कृषि पर निर्भर हैं. इस समुदाय में मुख्य रूप से छोटे किसान शामिल हैं. कुछ पशुपालन का काम भी करते हैं. जमीन कम […]

Ranjeet Bhartiya 02/01/2022

लाल बेगी या लालबेगी (Lal Begi or Lalbegi) भारत और पाकिस्तान में पाया जाने वाला एक चूहड़ा (Chuhra) जाति समुदाय है. परंपरागत रूप से यह सफाईकर्मी और मेहतर का काम करके जीवन यापन करते आए हैं. इन दोनों गतिविधियों को अपवित्र कार्य माने जाने के कारण इन्हें सामाजिक भेदभाव और छुआछूत का का सामना करना […]

Ranjeet Bhartiya 02/01/2022

धोडिया (Dhodia) भारत में पाई जाने वाली एक जनजाति है. यह स्वभाव से साहसी, निडर और बहादुर होते हैं. यह अपनी वीरता, देश भक्ति, अनूठी संस्कृति और विशिष्ट पहचान के लिए जाने जाते हैं.भारत सरकार के सकारात्मक भेदभाव की प्रणाली आरक्षण (Reservation) के तहत शिक्षा और सरकारी सेवाओं में इनके प्रतिनिधित्व को बढ़ाने के उद्देश्य […]