Ranjeet Bhartiya 29/05/2022

कछवाहा राजपूत राजाओं की आराध्य देवी माता शिला देवी का मंदिर जयपुर शहर से लगभग 15 किलोमीटर दूर, आमेर दुर्ग में स्थित है. इस मंदिर की बहुत मान्यता है. यह मंदिर ना केवल राजस्थान में बल्कि पूरे देश में प्रसिद्ध है. ऐसी मान्यता है कि कोई भी भक्त अगर सच्चे मन से देवी मां की […]

Ranjeet Bhartiya 28/05/2022

कछवाहा वंश (Kachwaha dynasty) की आराध्य देवी शिला माता (Shila Devi) हैं. माता शिला देवी को आमेर का संरक्षक माना जाता है. माता शिला देवी का ऐतिहासिक मंदिर राजस्थान में जयपुर के आमेर दुर्ग में, जलेब चौक के दक्षिणी भाग में ‌स्थित है. इस प्रसिद्ध मंदिर की स्थापना कछवाहा राजपूत राजा मानसिंह प्रथम (Mansingh I) […]

Ranjeet Bhartiya 26/05/2022

कछवाहा वंश का इतिहास अत्यंत ही गौरवशाली है. भारत में इस सूर्यवंशी क्षत्रिय राजपूत वंश के शासकों ने जयपुर, अलवर, मैहर, बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, और तालचर जैसे कई राज्यों और रियासतों पर शासन किया है. इनका सबसे बड़ा राज्य जयपुर था. लेकिन क्या आप जानते हैं इस ऐतिहासिक वंश के संस्थापक कौन थे? […]

Sarvan Kumar 25/05/2022

कुशवाहा भारत में पाई जाने वाली एक महत्वपूर्ण जाति है. यह समुदाय व्यापक रूप से पूरे भारत में फैला हुआ है. बिहार, उत्तर प्रदेश, झारखंड, राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, पश्चिम बंगाल, हरियाणा, दिल्ली, पंजाब और उत्तराखंड आदि राज्यों में इनकी उपस्थिति है. यूपी- बिहार जैसे राज्यों में यह राजनीतिक रूप से अत्यंत ही प्रभावशाली हैं […]

Ranjeet Bhartiya 22/05/2022

हिंदू समाज में कुलदेवता और कुलदेवी के पूजन का हमेशा से महत्व रहा है. भारत में विभिन्न जातियों के लोग रहते हैं. जातियों के अनुसार अलग-अलग कुलदेवी और कुलदेवता की पूजा की जाती है. आइए इसी क्रम में जानते हैं कुशवाहा/ कच्छवाह समाज की कुलदेवी के बारे में. कुशवाहा समाज की कुलदेवी कुशवाहा/कच्छवाह समाज की […]